Uncategorizedछत्तीसगढ़

ऑनलाइन कूरियर के माध्यम से धड़ल्ले से शहर में मंगाया जा रहा नशा का सामान :- जगदलपुर

अनिकेत शिवहरे

★ बर्बाद होते बच्चों और युवा पीढ़ी की नहीं है किसी को चिंता, कौन लेगा जिम्मेदारी?

जगदलपुर

शहर में विगत कुछ वर्षों से बच्चों और युवाओं को व्हाइटनर और अन्य नशीले दवाईयों की लत लग चुकी है. इस संबंध में कुछ समय पहले जागरूक लोगों द्वारा अभियान भी चलाया गया था लेकिन अब यह भी ठंडे बस्ते में जा चुका है.

सूत्र बताते हैं कि शहर के शांति नगर वार्ड, इंदिरा स्टेडियम के आसपास, कुम्हार पारा, पथरागुड़ा, रेलवे कॉलोनी सहित चांदनी चौक के आसपास इन नशीली पदार्थों की खपत व इन्हें बेचने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है.

पुलिस ने जब इन समाज के दुश्मनों पर कार्यवाई शुरू की तो इन शातिर दिमागों ने अब नया पैंतरा अपना लिया है. कूरियर के माध्यम से अब व्हाइटनर और नशीली दवाओं को ऑनलाइन मंगवाया जा रहा है और इन्हें तीन गुना अधिक दामों पर बेचा जा रहा है, जिस पर नकेल कसना तकरीबन नामुमकिन है.

ताज्जुब की बात तो यह है कि इस जहर की बड़ी खेप निरंतर ऑनलाइन माध्यमों से शहर पहुंच रही है और इस पर काबू पाना अब पुलिस के लिए भी टेढ़ी खीर साबित हो सकता है जब तक कि आला-अधिकारियों द्वारा कोई ठोस निर्देश नहीं दिए जाते.

ऐसे ही एक पैकेट की कुछ तस्वीरें, एलवी न्यूज़ के हाथ लग गयी जिसे प्रतापगंज पारा के एक युवक द्वारा मंगवाया गया है. सूत्र बताते हैं कि यह युवक भी कई वर्षों से नशा का सामान बेचने में संलिप्त रहा है. कमोबेश पूरे शहर की यही स्थिति है.

बहरहाल, अगर इस पर जल्द ही कोई नियंत्रण नही किया गया तो बस्तर का भविष्य निश्चित ही अंधकारमय हो जाएगा.

अनिकेत शिवहरे (दंतेवाड़ा)

𝐓𝐞𝐚𝐦 𝐚𝐭 𝐇𝐈𝐍𝐃𝐁𝐇𝐀𝐑𝐀𝐓 𝐋𝐢𝐯𝐞

𝐓𝐞𝐚𝐦 𝐚𝐭 𝐇𝐈𝐍𝐃 𝐁𝐇𝐀𝐑𝐀𝐓 𝐋𝐢𝐯𝐞❤
error: Content is protected !!