छत्तीसगढ़मौसम समाचार

छत्तीसगढ़ में प्री मानसून बारिश शुरू, दो दिनों में छत्‍तीसगढ़ में सक्रिय हो सकता है मानसून…..

छत्तीसगढ़ मौसम अपडेट : छत्‍तीसगढ़ के विभिन्न क्षेत्रों में अब प्री मानसून बारिश शुरू हो गई है। बुधवार को राजनांदगांव, जगदलपुर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश हुई। इन दिनों अरब सागर से आने वाली हवाओं की गहराई भी बढ़ने लगी है, इसके चलते हवा में भी ठंडकता आ गई है। इसके साथ ही चक्रीय चक्रवात के प्रभाव से भी प्रदेश में अब बारिश की गतिविधि और ज्यादा बढ़ने वाली है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो से तीन दिनों में मानसून का विस्तार प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी हो जाएग। बारिश होने से अधिकतम तापमान में भी गिरावट आएगी।

मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि दक्षिण पश्चिम मानसून के उत्तरी सीमा नवसारी, जलगांव, अमरावती, चंद्रपुर, बीजापुर, सुकमा, मलखानगिरी, विजयनगरम और इस्लामपुर है।मानसून को आगे बढ़ने के लिए इस समय अनुकूल परिस्थिति बनी हुई है। अरब सागर से आने वाली पश्चिमी हवाओं की गहराई बढ़ेगी,इसके चलते प्रदेश में बारिश की गतिविधि भी बढ़ने वाली है। मौसम का मिजाज अभी ऐसा ही बने रहने की संभावना है।

बिलासपुर मौसम अपडेट : बादलों का जमावड़ा और बिजली की चमक, मानसून की झड़ीदार एंट्री

बिलासपुर। मौसम का मिजाज धीरे-धीरे बदल रहा है और बादलों की आहट तेज हो चुकी है। गुरुवार से मौसम में और बदलाव नजर आने की संभावना है। बिजली की चमक और गरजते बादल संकेत दे रहे हैं कि जल्द ही झड़ीदार वर्षा शुरू होगी। बिलासपुर में पिछले कुछ दिनों से मौसम में हलचल देखी जा रही है।

बादलों का जमावड़ा और बिजली की चमक इस बात का इशारा कर रहे हैं कि मानसून अब अपने चरम पर है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले कुछ दिनों में पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है कि अगले 24 से 48 घंटों में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ वर्षा का क्रम प्रारंभ होगा। किसानों और स्थानीय निवासियों को सलाह दी गई है कि वे सावधान रहें और सुरक्षा के उपाय करें। बिजली की चमक और तेज हवाओं के चलते पेड़ों और बिजली के खंभों से दूर रहने की सलाह दी गई है।

बिलासपुर में बारिश का मौसम हमेशा से ही लोगों के लिए राहत भरा होता है, लेकिन इस बार मौसम विभाग लगातार चेतावनी जारी कर सतर्क कर रहा है, प्रशासन ने भी राहत कार्यों की तैयारी पूरी कर ली है और किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

प्रमुख शहरों का तापमान

शहर अधिकतम न्यूनतम बिलासपुर 36 24.8 पेंड्रारोड 33.2 23.6 अंबिकापुर 35.9 26.2 माना 37.6 24.5 जगदलपुर 34.8 24.8

अरब सागर से आ रही हवा

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून के उत्तरी सीमा बीजापुर, सुकमा है। मानसून को आगे बढ़ने के लिए अनुकूल परिस्थितियों बनी हुई है, अगले दो से तीन दिनों में मानसून प्रदेश के कुछ और हिस्से में पहुंचने की संभावना है। अरब सागर से आने वाली पश्चिमी हवा की गहराई से बढ़ने की संभावना है, जिसके कारण प्रदेश में वर्षा की गतिविधि में वृद्धि होने की संभावना है।

गरज-चमक के साथ वर्षा

एक उपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण तटीय आंध्र प्रदेश के ऊपर 5.8 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है। प्रदेश में 20 जून को अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। एक दो स्थानों पर गरज चमक के साथ अंधड़ चलने तथा वज्रपात होने की भी संभावना है। अधिकतम तापमान में गिरावट होने की संभावना है।

𝐁𝐇𝐈𝐒𝐌 𝐏𝐀𝐓𝐄𝐋

𝐄𝐝𝐢𝐭𝐨𝐫 𝐚𝐭 𝐇𝐈𝐍𝐃𝐁𝐇𝐀𝐑𝐀𝐓 𝐋𝐢𝐯𝐞 ❤
error: Content is protected !!