छत्तीसगढ़मौसम समाचार

छत्तीसगढ़ में मानसून की एंट्री : सुकमा के रास्ते तय समय से पहले मानसून का प्रवेश, इन जिलों में बारिश -आंधी-बिजली का अलर्ट, जानें IMD का ताजा पूर्वानुमान

Chhattisgarh Weather: छत्तीसगढ़ वासियों के लिए खुशखबरी है। तय समय से पहले दक्षिण पश्चिम मानसून ने प्रदेस में दस्तक दे दी है। इसके असर से बस्तर संभाग में अगले 5 दिनों तक अच्छी बारिश होने की संभावना जताई गई है। वही चक्रवती परिसंचरण के प्रभाव के चलते आज शनिवार को प्रदेश के 12 जिलों में हल्की से मध्यम बारिश, अंधेड़ और वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है।इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा के रफ्तार से हवा चल सकती है।

दक्षिण-पश्चिम मानसून की प्रगति: दक्षिण-पश्चिम मॉनसून आज, 08 जून, 2024 को मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों, दक्षिण महाराष्ट्र, तेलंगाना और दक्षिण छत्तीसगढ़ और दक्षिण ओडिशा के कुछ हिस्सों और तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ गया है।

मॉनसून की उत्तरी सीमा अब 18.0°N/60°E, 18.0°N/65°E, 17.5°N/70°E, हरनाई, बारामती, निज़ामाबाद, सुकमा, मल्कानगिरी, विजयनगरम, 19.5°N/88° से होकर गुजरती है। पूर्व, 21.5° उत्तर/89.5° पूर्व, 23 उत्तर/89.5° पूर्व और इस्लामपुर (अनुलग्नक III)

अगले 2-3 दिनों के दौरान मध्य अरब सागर के शेष हिस्सों, महाराष्ट्र के कुछ और हिस्सों (मुंबई सहित) और तेलंगाना में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियाँ अनुकूल हैं।

आज इन जिलों में बारिश का अलर्ट

छत्तीसगढ़ मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि बिलासपुर, बेमेतरा, कबीरधाम ,गौरेला पेंड्रा मरवाही, जांजगीर-चांपा, कोरबा, कोंडागांव, दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर, नारायणपुर, धमतरी, कांकेर, गरियाबंद ,बस्तर कोरिया, मनेंद्रगढ़ चिरमिरी, भरतपुर, मुंगेली में अलग-अलग स्थानों पर 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से सतही हवा के साथ मध्यम गरज और बिजली गिरने की संभावना है।फिलहाल अधिकतम तापमान में कोई खास बदलाव नहीं होगा।

मानसून की दस्तक जल्द

छत्तीसगढ़ मौसम विभाग के अनुसार, एक चक्रवती परिसंचरण दक्षिण तेलंगाना और आसपास के क्षेत्र में समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर स्थित है। इसके चलते तय समय से पहले दक्षिण पश्चिम मानसून ने सुकमा के रास्ते छत्तीसगढ़ में दस्तक दे दी है, अनुमान है कि 15 जून तक यह पूरे प्रदेश में दस्तक दे देगा। इस बार प्रदेश में बारिश सामान्य से 6% अधिक रहेगी, पिछले साल बारिश सामान्य से 6% कम रही थी।

𝐁𝐇𝐈𝐒𝐌 𝐏𝐀𝐓𝐄𝐋

𝐄𝐝𝐢𝐭𝐨𝐫 𝐚𝐭 𝐇𝐈𝐍𝐃𝐁𝐇𝐀𝐑𝐀𝐓 𝐋𝐢𝐯𝐞 ❤
error: Content is protected !!