छत्तीसगढ़मौसम समाचार

छत्तीसगढ़ मौसम अपडेट : आज से तपेगा नौतपा, आग सी लगेगी गर्मी, रात में भी बढ़ेगा पारा, तेज गर्मी पड़ने से अच्छा रहेगा मानसून, मानसून में हो सकती है 55 दिन बारिश, जानें नौतपा के नौ दिनों में मौसम की संभावना…

छत्तीसगढ़ मौसम अपडेट : ज्योतिष शास्त्र में ग्रह नक्षत्रों के आधार पर मौसम की भविष्यवाणी की जाती है। ग्रह नक्षत्रों से संकेत मिलता है कि गर्मी तेज पड़ेगी अथवा कम, मानसून अच्छा रहेगा या औसत होगा या सूखा पड़ेगा। कड़कड़ाती ठंड पड़ेगी या हल्की ठंड। ग्रह नक्षत्रों के संयोग से मौसम के ऐसे ही संकेतों का अनुमान नौतपा में लगाया जाता है।

25 मई से प्रारंभ हो रहे नौतपा में नौ दिनों तक पड़ने वाले ऊर्जा नक्षत्रों के प्रकोप से सूर्य के आग उगलने का अनुमान है। अर्थात तेज गर्मी से धरती खूब तपेगी। तेज गर्मी पड़ने से आने वाला मानसून भी बेहतर रहेगा। सिद्ध योग और चंद्रप्रधान रोहिणी नक्षत्र में सूर्य का प्रवेशज्योतिषाचार्य डा.दत्तात्रेय होस्केरे के अनुसार सूर्य, जब रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करता है, उस दिन से नौतपा प्रारंभ होता है, जो अगले नौ दिनों तक चलता है।

नौतपा का अर्थ है कि सूर्य से निकलने वाली तेज ऊर्जा के कारण धरती तपती है, यानी तेज गर्मी पड़ती है। इस साल नौतपा 24 मई की रात्रि 3.15 बजे से शुरू हो रहा है। हिंदू पंचांग के अनुसार इसी दिन ज्येष्ठ माह भी शुरू होगा। नौतपा का पहला दिन 25 मई के सूर्योदय से माना जाएगा।

इस दिन सिद्ध योग में चंद्रप्रधान रोहिणी नक्षत्र में सूर्य प्रवेश कर रहा है। नौतपा का समापन दो जून को होगा। हालांकि सूर्य सात जून तक रोहिणी नक्षत्र में रहेगा। ज्योतिष दृष्टिकोण से ग्रह नक्षत्र संकेत दे रहे हैं कि इस साल नौतपा में भीषण गर्मी पड़ने की संभावना है।

55 दिन होगी बारिश

ज्योतिषीय मान्यता है कि नौतपा के नौ दिनों में यदि तेज गर्मी पड़ती है तो आने वाला मानसून अच्छा होता है। चूंकि, इस साल तेज गर्मी पड़ने की संभावना है। इसलिए मानसून भी बेहतर रहेगा। सूर्य, जिस दिन आद्रा नक्षत्र में प्रवेश करता है, उस दिन से तेज बारिश का मौसम शुरू होता है। इस साल आठ जून को आद्रा नक्षत्र है, इस दिन से देशभर में मानसून छा जाएगा। लगभग 55 दिनों तक बारिश होने की संभावना है। ऐसी संभावना है कि 31 मई को मानसून केरल पहुंचेगा।

नौतपा के नौ दिनों में मौसम की संभावना

  • 25 मई – बुध प्रधान ज्येष्ठा नक्षत्र में तेज गर्मी
  • 26 मई – केतु प्रधान मूल नक्षत्र में तेज गर्मी
  • 27 मई – शुक्र प्रधान पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में उमस, तेज गर्मी
  • 28 मई – सूर्य प्रधान उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में तेज गर्मी 
  • 29 मई – चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र में हल्की बूंदाबांदी, उमस
  • 30 मई – मंगल प्रधान धनिष्ठा नक्षत्र में तेज गर्मी 
  • 31 मई – राहु प्रधान शतभिषा नक्षत्र में दिनभर तेज गर्मी, शाम को अंधड़
  • 01 जून – शनि प्रधान उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र में तेज गर्मी, तेज हवा
  • 02 जून – बुध प्रधान रेवती नक्षत्र में तेज गर्मी, उमस और हल्की बारिश

बिलासपुर मौसम अपडेट : दिन में सुकून है न रात में चैन, रात में भी बढ़ेगा पारा, आज हल्की बूंदाबांदी का अनुमान, नौतपा में खूब पानी पीएं,सेहत का रखें ख्याल

नौतपा 25 मई यानी शनिवार से प्रारंभ होगा। दो जून तक प्रचंड गर्मी पड़ेगी। दिन और रात के तापमान में वृद्धि दर्ज होगी। पारा अपनी चरम पर पहुंच सकता है। हीटवेव व लू चलने की आशंका है। आमजन को धूप से बचने विशेष सावधानी बरतनी होगी। एकदम जरूरी होने पर ही दिन में घर से निकलना उचित होगा।

शनिवार से सूर्य रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश कर रहा है, जिसके साथ ही नौतपा का आगाज होगा। इस दौरान गर्मी प्रचंड रहेगी और पारा और चढ़ेगा। ज्योतिष शास्त्री पंडित वासुदेव शर्मा ने बताया कि 25 मई से नौतपा शुरू हो रहा है। सुबह 3:17 से सूर्य रोहिणी नक्षत्र में आएगा। नौ दिन तक सूर्य की तेज तपिश रहती है। इस बार दो जून तक नौतपा रहेगा। इधर शुक्रवार को न्यायधानी में उमस भरी गर्मी ने आम जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है।

दिन में सुकून है न रात में चैन। सूर्य की तेज किरणें मानों चमड़ी को जला रही है। दिन में घर से निकलना मुश्किल है। आसमान में बादलों का एक हल्का लेयर बना हुआ है, जिसके कारण सूर्य की किरणें कम आग उगल रही है। लेकिन उमस ने समस्या और बढ़ा दी है।

मौसम वेधशाला रायपुर के विज्ञानी डा. एचपी चंद्रा के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून मालदीव के कुछ भाग और कोमोरिन क्षेत्र, दक्षिण बंगाल की खाड़ी, अंडमान और निकोबार द्वीप, अंडमान सागर, और पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ भाग तक शुक्रवार को पहुंच गया। मानसून के आगे बढ़ने के लिए अनुकूल परिस्थिति बनी हई है। एक अवदाब मध्य बंगाल की खाड़ी में खेपूपारा से 730 किमी दक्षिण दक्षिण पश्चिम में, कनिं से 750 किमी दक्षिण में स्थित है।

इसके लगातार उत्तर पूर्व में आगे बढ़ते हुए प्रबल होकर चक्रवात के रूप में 25 मई की रात्रि में बनने की संभावना है। इसके पुनः प्रबल होते हुए प्रबल चक्रवात में परिवर्तित होने की संभावना है। यह 26 मई को अर्ध रात्रि में पश्चिम बंगाल तट और बांग्लादेश तट के पास सागर द्वीप और खेपूपारा के पास पहुंच सकता है। शहर में इसका कोई खास प्रभाव नहीं पड़ेगा, लेकिन आसमान में उथल-पुथल देखने को मिल सकता है। फिलहाल शहर में लोग गर्मी और उमस से परेशान हैं।

आज हल्की बूंदाबांदी का अनुमान

मौसम विभाग की मानें तो एक द्रोणिका दक्षिण पश्चिम राजस्थान से छत्तीसगढ तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। एक चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण उत्तर पूर्व मध्य प्रदेश के ऊपर 1.5 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है। 25 मई को एक दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने या गरज-चमक के छींटे पड़ने की संभावना है। एक दो स्थानों पर गरज-चमक के अंधड़ चलने तथा वज्रपात का अनुमान है। प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है। बिलासपुर में मामूली वृद्धि हो सकती है।

रात में भी बढ़ेगा पारा

मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी होगी। हीट वेव और लू भी चलेगी। न्यायधानी में फिलहाल आसमान में हल्के बादल हैं लेकिन जल्द ही यह साफ और शुष्क रहेगा। जिले में लगभग दो से तीन डिग्री की बढ़ोतरी होगी। रात का पारा भी बढ़ेगा। उमस भी बढ़ती जाएगी। इस दौरान सभी को खास ध्यान रखने की एडवाइजरी जारी की गई है।

नौतपा में खूब पानी पीएं,सेहत का रखें ख्याल

डिहाइड्रेशन से बचाव के लिए पानी पीएं। घर में बनी लस्सी, आमरस, निंबू पानी ज्यादा पीएं। सुबह 11 बजे के बाद जरूरी ही तभी घर से निकलें। शरीर को ढंककर रखें, छतरी रखें। टोपी, फेस को ढंककर रखें। वायरल इनफेक्शन से बचाव के लिए एसी में एकदम न जाएं या गर्मी से एसी में एकदम न जाएं। अगर लू लग जाती है तो शरीर को पहले थोड़ा सामान्य करें, उसके बाद सामान्य पानी से नहा लें और खूब पानी पिएं। सूती, ढीले और आरामदायक कपड़े ही पहनें। छाछ, ओआरएस का घोल भी पीते रहें। लस्सी, नींबू, आम पन्ना भी पी सकते हैं। बाहर का बना हुआ खाना और तेल मसाले का कम से कम सेवन करें।

सूर्य की किरणें सीधे पृथ्वी पर

मौसम विशेषज्ञ अब्दुल सिराज खान के अनुसार 25 मई से दो जून के बीच सूर्य की किरणें सीधे पृथ्वी पर पड़ती हैं। इस दौरान तापमान सबसे ज्यादा होता है। नौतपा में गर्मी बढ़ने से एक फायदा यह होता है कि इससे मानसून अच्छा होता है। खासतौर पर बच्चों और बुजुर्गों को इस समय घर से बाहर जाने से बचना चाहिए। घर की खिड़कियों को और खुली जगहों को पर्दे लगाकर रखें और हल्का खाना खाएं।

उप-विभागवार चेतावनियाँ/छत्तीसगढ़ के लिए चेतावनी, जारी करने की तिथि: 25 मई, 2024

  • दिन 1: 25 मई, 2024 तूफान और बिजली, तूफान आदि
  • दिन 2: 26 मई, 2024 तूफान और बिजली, तूफान आदि
  • दिन 3: 27 मई, 2024 गर्म लहर
  • दिन 4: 28 मई, 2024 गर्म लहर
  • दिन 5: 29 मई, 2024 गर्म लहर

𝐁𝐇𝐈𝐒𝐌 𝐏𝐀𝐓𝐄𝐋

𝐄𝐝𝐢𝐭𝐨𝐫 𝐚𝐭 𝐇𝐈𝐍𝐃𝐁𝐇𝐀𝐑𝐀𝐓 𝐋𝐢𝐯𝐞 ❤
error: Content is protected !!